प्रिंसिपल संदेश
 

मानव जीवन को विकसित करने के लिए शिक्षा ही एक ऐसा माध्यम है जिसके द्वारा यह देश अपने हजारों साल की संस्कृति को संजोकर, एवं भविष्य में दुनिया के विकसित देशों के व्यक्तियों के साथ कदम से कदम मिला कर चल सकेगा |

21 वीं शताब्दी में मानव, विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी द्वारा, ऐसी क्रांति लायेंगे जो कल्पना से परे होगा और मानव का दायरा इस संसार तक ही सिमित न रह कर बाह्य जगत से जुड़ेगा |

हमारा निश्चय है की हम अपने विद्यार्थियों को उत्कर्ष शिक्षा केंद्र प्रदान करें, जो उन्हें आर्थिक रूप से सक्षम एवं स्वावलम्बी भारतीय नागरिक के रूप में सुसज्जित करें | विद्यालय ऐसे हों जो उत्तम शैक्षाणिक आधारभूत सरंचना और सर्वश्रेष्ठ संकाय के द्वारा छात्रों के ज्ञानोपार्जन के साथ अनुशासन व चरित्र निर्माण में सहयोग प्रदान करें एवं अध्यापकगण, छात्र एवं छात्राएं इस शताब्दी के महायज्ञ में कदम से कदम मिलाकर आगे बढ़ें और अपने देश को अपने समय में ही विकसित देश के रूप में देखें |

मेरी शुभकामनाएँ 


समरीन कादरी

प्राचार्य

 
केंद्रीय विद्यालय (एएफएस) जैसलमेर , राजस्थान Powered by : Compusys e Solutions